ब्यूटी सर्वे: फिगर से नाखुश 55% किशोर लड़कियां मिस कर देती हैं जिंदगी के मौके

एक सर्वे के मुताबिक उन लड़कियों की संख्या काफी ज्यादा है जो अपने फिगर से खुश नहीं हैं। ऐसी लड़कियां न सिर्फ खाना खाना छोड़ देती हैं बल्कि अपने दोस्तों और परिवार वालों से भी नहीं मिलती हैं। सिर्फ इतना ही नहीं वह डॉक्टर्स से भी नहीं मिलती और न ही किसी तरह के क्लब में जाती हैं। ब्यूटी प्रॉडक्ट्स बनाने वाली कंपनी डव की ओर से एक रिपोर्ट जारी की गई है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि करीब 54 प्रतिशत लड़कियां जिनकी उम्र 10 से 17 वर्ष के बीच है वे अपने फिगर को लेकर खुश नहीं हैं। इस रिसर्च में यह निष्कर्ष भी निकला है कि इस तरह की लड़कियां अपनी जिंदगी के प्रति उदास रहती हैं। डव ग्लोबल साल र्गल्स ब्यूटी एंड कॉन्फिडेंस रिपोर्ट 2017 में यह बात कही गई है। इस रिपोर्ट एडेलमैन इंटेलीजेंस की ओर से जारी की गई है। इस सर्वे के लिए 14 अलग-अलग देशों में रहने वाली 10 से 17 वर्ष उम्र की 5,165 लड़कियों का इंटरव्यू किया गया था। पूरी दुनिया की अगर बात करें तो करीब 55 प्रतिशत ऐसी लड़कियां अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ समय बिताने से बचती हैं। अगर वे अपने लुक्स से खुश नहीं हैं तो घर से बाहर नहीं निकलती हैं और न ही किसी तरह की टीम और फिर किसी तरह का कोई क्लब बनाती हैं। वहीं लो बॉडी स्टीम वाली 80 प्रतिशत लड़कियां ऐसा करती हैं।

Related posts

Leave a Comment